विचार

बंगाल की पुरातन संस्कृति से परहेज कब तक?

"कृत्तिवासी रामायण" के रचयिता 'कृतवास ओझा' थे जिन्होने पन्द्रहवी सदी के पूर्व में कृत्तिवासी रामायण की रचना की। कृत्तिवासी रामायण...

Read more

बीता हुआ वक़्त व्यक्ति का परिचय और राष्ट्र का इतिहास हुआ करता है

अतीतविहीन होने का ऐतिहासिक दर्द वक़्त; जिसे हमने बाँट रखा है घड़ियों, पलों, घण्टों, तारीखों में, जो कभी कटता नहीं...

Read more

मंदिरों में चुपचाप विराजमान पत्थरों के देवता से इतना डरते क्यों हैं लोग?

इतना डरते क्यों हैं लोग, मंदिरों में स्थापित पत्थरों के देवता और उनके अलिखित सम्राज्य से? जबकि वह चुप है,...

Read more

अगर औरतों ने विद्रोह कर नग्नता अपना ली, तो आपकी सारी स्थापित संरचनाएं ध्वस्त हो जाएगी

नग्नता की सज़ा देने को अपनी सजाओं की सूची से बाहर कीजिए, अगर औरतों ने विद्रोह कर नग्नता अपना ली,...

Read more
Page 1 of 2 1 2

Reccent Posts

Welcome Back!

Login to your account below

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.